IRCTC ने शुरू की भारत को नेपाल से जोड़ने वाली देश की पहली भारत गौरव ट्रेन, ₹ 62,370 में होगी सैर
भारत गौरव टूरिस्ट ट्रेन (Bharat Gaurav Train)

IRCTC ने शुरू की भारत को नेपाल से जोड़ने वाली देश की पहली भारत गौरव ट्रेन, ₹ 62,370 में होगी सैर

रेलवे ने बताया कि 17 रात और 18 दिन वाली यह 'भारत गौरव ट्रेन' देश के 8 राज्यों में सफर करेगी और यह ट्रेन भारत और नेपाल के दो तीर्थ स्थलों को जोड़ेगी

इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कारपोरेशन (IRCTC) की भारत गौरव टूरिस्ट ट्रेन (Bharat Gaurav Train) मंगलवार को नई दिल्ली से सफदरगंज के लिए रवाना हुई। केंद्रीय पर्यटन, संस्कृति मंत्री जी किशन रेड्डी ने रेल, संचार, इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री अश्विनी वैष्णव के साथ दिल्ली के सफदरजंग रेलवे स्टेशन से ट्रेन को हरी झंडी दिखाई। भारत गौरव टूरिस्ट ट्रेन (Bharat Gaurav Train) में एक यात्री का किराया 62,370 रुपये है जिसमें लगभग 600 यात्रियों की क्षमता वाले 11 थर्ड एसी श्रेणी के कोच हैं। रेलवे ने बताया कि 17 रात और18 दिन वाली यह 'भारत गौरव टूरिस्ट ट्रेन' (Bharat Gaurav Tourist Train) देश के 8 राज्यों में सफर करेगी।

देश के ऐतिहासिक स्थानों की यात्रा 18 दिनों के लिए शुरू

"थीम-बेस्ड भारत गौरव ट्रेन (Bharat Gaurav Train) में भारत और विदेशों के पर्यटक देश की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत और ऐतिहासिक स्थानों के दर्शन कर सकेंगे। भारत गौरव पर्यटक ट्रेन (Bharat Gaurav Train) मंगलवार से 18 दिनों के लिए अपनी पहली श्री रामायण यात्रा शुरू कर रही है। भारत- नेपाल के बीच श्री राम यात्रा सर्किट पर चलने वाली ट्रेन की पहली यात्रा पहली बार जनकपुर (नेपाल में) के धार्मिक स्थल को भी कवर करेगी।

इसके अलावा अन्य लोकप्रिय स्थलों जैसे अयोध्या, नंदीग्राम, सीतामढ़ी, वाराणसी, प्रयागराज, चित्रकूट, पंचवटी (नासिक), हम्पी, रामेश्वरम और भद्राचलम भी यात्रा में शामिल हैं। यह भारत- नेपाल के बीच राम यात्रा सर्किट पर 8000 किमी की दूरी तय करेगी। IRCTC दुनिया की पहली एजेंसी है जो देशों को जोड़ते हुए यात्रा की सुविधा दे रही है।

क्या क्या शामिल है ट्रेन पैकेज में

भारत गौरव पर्यटक ट्रेन (Bharat Gaurav Train)
भारत गौरव पर्यटक ट्रेन (Bharat Gaurav Train)

दिल्ली के अलावा अलीगढ़, कानपुर, टूंडला और लखनऊ से यात्री सवार हो सकेंगे। बोर्डिंग स्टेशन कोई भी हो टिकट की कीमत एक समान रहेगी। यात्रा की योजना में भोजन, आवास और गाइड सेवाएं शामिल हैं। पूरी तरह से वातानुकूलित ट्रेन में 14 कोच हैं, जिसमें 11 थर्ड एसी कोच, एक पेंट्री कार और दो स्लीपर कार हैं। बोर्ड पर शाकाहारी भोजन परोसा जाएगा।

भारत गौरव ट्रेन के पीछे का दृष्टिकोण

ट्रेन के अंदरूनी हिस्से रामायण पर आधारित हैं। भारत गौरव पर्यटक ट्रेन (Bharat Gaurav Train) देखो अपना देश पहल के माध्यम से घरेलू पर्यटन को बढ़ावा देने का केंद्र का प्रयास है। रेल मंत्रालय द्वारा भारत गौरव ट्रेनों की अनूठी पहल, देश भर में बड़े पैमाने पर पर्यटन को बढ़ावा देने में सहायक होगी और देश के सभी हिस्सों के लोगों को देश के वास्तुशिल्प, सांस्कृतिक और ऐतिहासिक चमत्कारों के दर्शन का अवसर प्रदान करेगी। यात्रियों को ईएमआई विकल्प प्रदान करने के लिए आईआरसीटीसी ने पेटीएम और रेजरपे के साथ टाईअप किया है। पहले 50% यात्रियों को 5% अर्ली-बर्ड डिस्काउंट भी दिया जा रहा है।

To get all the latest content, download our mobile application. Available for both iOS & Android devices. 

Related Stories

No stories found.
Knocksense
www.knocksense.com