IRCTC के टूर पैकेज से मात्र 59,700 में घूमें थाईलैंड, IRCTC की वेबसाइट से करें बुकिंग
थाईलैंड

IRCTC के टूर पैकेज से मात्र 59,700 में घूमें थाईलैंड, IRCTC की वेबसाइट से करें बुकिंग

IRCTC के चीफ रीजनल मैनेजर अजीत कुमार सिन्हा ने बताया कि थाईलैंड का टूर 5 रातों और 6 दिनों का होगा।

अगर आप थाईलैंड घूमने चाहते हैं या फिर घूमने का प्लान बना रहे हैं तो यह खबर आपके लिए ही है। इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कारपोरेशन (IRCTC) आपके लिए लेकर आया है सस्ते में थाईलैंड घूमने का मौका और यह सैर अगले महीने होगी। IRCTC के द्वारा थाईलैंड जाने के लिए आपको डबल रूम शेयरिंग के आधार पर प्रति यात्री 59,700 रुपये खर्च करने होंगे। इस पैकेज में आपको थ्री स्टार होटल में ठहरने, ब्रेकफास्ट, लंच और डिनर के साथ वीजा शुल्क भी शामिल होगा। यह यात्रा 23 जुलाई से शुरू होगी और 28 जुलाई को भारत वापसी होगी।

5 रातें और 6 दिन का होगा टूर

थाईलैंड
थाईलैंड

IRCTC के चीफ रीजनल मैनेजर अजीत कुमार सिन्हा ने बताया कि थाईलैंड का टूर 5 रातों और 6 दिनों का होगा। इस टूर की बुकिंग कोई भी IRCTC के क्षेत्रीय कार्यालय के साथ ही ऑनलाइन IRCTC की वेबसाइट पर भी करवा सकता है। इस टूर पैकेज में पटाया में अलकजार शो, कोरल आइलैंड एवं नांग नूच ट्रॉपिकल गार्डन, बैंकॉक में जेम्स ऑफ़ गैलरी, हाफ डे सिटी टूर, सफारी वर्ल्ड और मरीन पार्क आदि का भ्रमण करवाया जाएगा। यात्रियों को लखनऊ से फ्लाइट द्वारा कोलकाता होकर बैंकाक जाने और वापसी में बैंकाक से वाया दिल्ली होकर आने की सुविधा मिलेगी।

थाईलैंड
थाईलैंड

आपको बता दें कि अगर आप दो से तीन व्यक्तियों के साथ ठहरते हैं तो 59,700 रुपये प्रति व्यक्ति देने होंगे। वहीं अगर आप अकेले ठहरते हैं तो आपको 69,850 रुपये देने होंगे और यह आपको बुकिंग के दौरान बताना होगा और उसी हिसाब से भुगतान भी करना होगा। इसके साथ ही आपको बता दें कि बुकिंग करवाने के लिए आपके पास 6 महीने के लिए वैध पासपोर्ट, 6 महीने के बैंक अकाउंट की सत्यापित कॉपी के साथ खाते में 700 अमेरिकी डॉलर का अकाउंट बैलेंस होना अनिवार्य है। साथ ही आवेदक के तीन नवीन फोटो भी जरूरी है जिन्हे बुकिंग के दौरान सभी जरूरी दस्तावेज़ों के साथ लगाया जाएगा।

To get all the latest content, download our mobile application. Available for both iOS & Android devices. 

Related Stories

No stories found.
Knocksense
www.knocksense.com