आईआईटी इंदौर ने एमपी के सरकारी इंजीनियरिंग संस्थानों के साथ की साझेदारी, 50 मेधावी छात्र कर सकेंगे मुफ्त इंटर्नशिप

आईआईटी इंदौर ने एमपी के सरकारी इंजीनियरिंग संस्थानों के साथ की साझेदारी, 50 मेधावी छात्र कर सकेंगे मुफ्त इंटर्नशिप

इसके अलावा, छात्रों को आवास पूरी तरह से निःशुल्क प्रदान किया जाएगा। संस्थान इन छात्रों की रिसर्च का खर्च भी उठाएगा।

इंजीनियरिंग के मेधावी छात्रों की मदद करने और उन्हें प्रोत्साहित करने के प्रयास में, आईआईटी इंदौर ने राज्य भर के सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेजों के साथ मेमोरेंडम ऑफ़ अंडरस्टैंडिंग पर साइन किए हैं। इस साझेदारी के साथ 50 छात्रों को संस्थान के साथ इंटरशिप करने या प्रोजेक्ट पर काम करने का मौका दिया जाएगा। इन अवसरों के लिए आईआईटी इंदौर छात्रों से कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं लेगा। इसके अलावा, छात्रों को आवास पूरी तरह से निःशुल्क प्रदान किया जाएगा। संस्थान इन छात्रों की रिसर्च का खर्च भी उठाएगा।

एक अमूल्य अवसर

आईआईटी जैसे प्रसिद्ध राष्ट्रीय स्तर के संस्थान में इंटरशिप करना छात्रों के लिए जीवन का एक बड़ा अवसर है। संस्थान का नाम भारत के अंदर और बाहर दोनों जगह उच्च सम्मान में लिया जाता है। यही कारण है कि इस तरह का अवसर न केवल छात्रों को उनके सपनों की नौकरी प्राप्त करने में मदद करेगा बल्कि भविष्य में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्राप्त करने में भी मदद करेगा।

छात्र इंजीनियरिंग के क्षेत्र के कुछ सबसे महान, सबसे योग्य और अनुभवी लोगों के साथ काम करेंगे। एक क्वालिटी लर्निंग एक्सपीरियंस के अलावा, उन्हें अलग-अलग दृष्टिकोण वाले उज्ज्वल छात्रों के साथ बातचीत करने का भी मौका मिलेगा।

एक महीने की इंटर्नशिप

आईआईटी इंदौर ने ट्विटर पर साझा किया है कि इन इंटर्नशिप की अवधि एक महीने की होगी। इस अवधि के दौरान, संस्थान की फैकल्टी के सदस्यों द्वारा छात्रों का मार्गदर्शन किया जाएगा। इंटर्न की नियुक्ति संस्थान के विभिन्न स्कूलों, विषयों या केंद्रों पर की जाएगी। इसके अतिरिक्त, उन्हें संस्थान में रिसर्च कार्य और अन्य अनुभवों के लिए अत्याधुनिक सुविधाओं को एक्सेस करने की अनुमति होगी।

आमतौर पर, आईआईटी इंदौर फर्स्ट कम फर्स्ट सर्व के आधार पर इंटर्नशिप प्रदान करता है। इस तथ्य के बावजूद कि छात्रों का चयन योग्यता के आधार पर किया जाएगा, संभावना है कि इस बार भी फर्स्ट कम फर्स्ट सर्व की नीति लागू की जाएगी।

To get all the latest content, download our mobile application. Available for both iOS & Android devices. 

Related Stories

No stories found.