मध्य प्रदेश के सिंगरौली स्थित वीणा वादिनी स्कूल के छात्र दोनों हाथों से लिखने की अद्भुत विधा में निपुण हैं

मध्य प्रदेश के सिंगरौली स्थित वीणा वादिनी स्कूल के छात्र दोनों हाथों से लिखने की अद्भुत विधा में निपुण हैं

यह भारत का एकमात्र 'उभयहस्त' (ambidextorous) स्कूल है जहाँ के छात्र हिंदी, अंग्रेजी, उर्दू, संस्कृत, अरबी और रोमन जैसी छह अलग-अलग भाषाओं में लिख सकते हैं।

अमूमन हमें हमेशा अपने दैनिक कार्यों के लिए अपने दाहिने हाथ का उपयोग करना सिखाया गया है लेकिन आपने देखा होगा कि ऐसे कई लोग हैं जो अपने बाएं हाथ से भी बहुत अच्छे से लिख लेते हैं। लेकिन दिलचस्प बात यह है कि दुनिया भर में ऐसे जीनियस हैं जो दोनों हाथों से एक साथ लिख सकते हैं।

जी हां, और ऐसे लोग भारत के मध्य प्रदेश में सिंगरौली नामक स्थान पर मौजूद हैं। वीणा वादिनी स्कूल के छात्रों में दोनों हाथों को समान शक्ति से उपयोग करने का यह उभयहस्त (ambidextrous) कौशल है। इसे पढ़कर, पहला विचार जो हमारे दिमाग में आएगा, वह है थ्री इडियट्स में वीरू सहस्त्र बुद्ध, बोमन ईरानी द्वारा अभिनीत, जो इस कौशल का उपयोग दो अन्य प्रमुख पात्रों, राजू और फरहान के माता-पिता को पत्र लिखने के लिए करता है।

To get all the latest content, download our mobile application. Available for both iOS & Android devices. 

Related Stories

No stories found.
Knocksense
www.knocksense.com